तिल धानी मुहूर्त।

तिल कि धानी निकालने का मुहूर्त।

शुभ तिथि: – रिक्ता(४,९,१४)अमावस्या को छोड़कर सभी तिथि शुभ हैं।

चर लग्न शुभ फल दायी हैं।

शुभ वार:- सोमवार, बुधवार, बृहस्पतिवार, शुक्रवार रविवार।
वर्जित वार :- मंगलवार, शनिवार निषेध हैं।

लग्नशुद्धि, चंद्रमा शुद्धि परम आवश्यक है।

तिल धानी मुहूर्त चक्र।

त्रिक शुद्धि परम आवश्यक है।

सूर्य नक्षत्र से गिनकर 3-3 नक्षत्रों के नक्षत्रों के त्रिक बनाएं ।पहले त्रिक में हानि।

दूसरे त्रिक में ऐश्वर्य ।

तीसरे त्रिक में आरोग्य ।

चौथे त्रिक में सामग्री नाश।

पांचवें त्रिक में द्रव्य लाभ।

छठे त्रिक में स्वामी घात।

सातवें त्रिक में निर्धनता ।

आठवीं त्रिक में मृत्यु ।

नोवें त्रिक में सुख ।

जिस त्रिक का नक्षत्र शुभ फल दायी हो उसमे करें।