नये बर्तन खरीदने का मुहूर्त।

अमृत योग में नए बर्तन खरीदना शुभ फलदाई होता है।

शुभ नक्षत्र :- अश्वनी ,रोहिणी, मृगशिरा ,पुनर्वसु ,पुष्य, उत्तराफाल्गुनी ,हस्त, चित्रा, स्वाति, अनुराधा ,उत्तराषाढा,श्रवण, घनिष्ठा, शतभिषा, उत्तरा भाद्रपद ,रेवती।

शुभ वार :- बुधवार, गुरुवार, शुक्रवार।

शुभ तिथि:- रिक्ता(4,9,14) एवं अमावस्या,श्राद्ध को छोड़कर सभी तिथियों में आप बर्तन खरीद सकते हैं।

दान देने के लिए श्राद्ध पक्ष में बर्तनों को खरीदने पर तथा शादी समारोह में देने के लिए बर्तनों कि खरीद पर मुहूर्त कि आवश्यकता नहीं होती है।

शुभ धातु:- सोना ,चांदी, कांस्य ,लोहा ,पीतल, एल्युमिनियम के बर्तन में भोजन बनाना एवं खाना सर्वदा निषेध होता है यह रोग कारक है।

आजके परिवेश में घरों में एल्यूमीनियम के बर्तन प्रयोग किया जा रहा है।यह स्वास्थ्य के लिए बहुत-बहुत ज्यादा हानिकारक है कृपया अपने घर के सदस्यों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहते हैं तो एल्यूमीनियम तथा एल्यूमीनियम मिश्र धातु के बर्तनों में भोजन ना पकाएं।