धन संग्रह का मुहूर्त।

चंद्रमा विचार :- स्वयं कि राशि से चौथा, छठा, आठवां, बारहवां नहीं होना चाहिए।

शुभ नक्षत्र:- अश्विनी नक्षत्र नक्षत्र , रोहिणी नक्षत्र , मृगशिरा नक्षत्र , पुनर्वसु नक्षत्र , पुष्य नक्षत्र ,उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र , हस्त नक्षत्र , चित्रा नक्षत्र , स्वाति नक्षत्र ,अनुराधा नक्षत्र , उत्तराषाढा नक्षत्र ,श्रवण नक्षत्र ,धनिष्ठा नक्षत्र ,शतभिषा नक्षत्र ,उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र ,रेवती नक्षत्र ।

वर्जित नक्षत्र:- भरणी, कृतिका, आर्द्रा, आश्लेषा, मघा, पुर्वाफाल्गुनि ,विशाखा, ज्येष्ठा, मूल, पूर्वाषाढ़ा , पुर्वा भाद्रपद ये सभी नक्षत्र धन संग्रह करने के लिए निषेध माने गये हैं।

तिथि विचार :-

वार विचार :-

भद्रा विचार :-

धन संग्रह और बैंक में खाता खुलवाने के लिए इस मुहूर्त का ही प्रयोग करें।