फैक्ट्री शुरू करने का मुहूर्त।

थ्रेसर ,क्रेशर ,बॉयलर,आटा मील,दाल मील,मिक्सर प्लांट आदि तथा अन्य किसी फैक्ट्री का काम इस मुहूर्त में शुरू करें।

चंद्रमा विचार :- स्वयं कि राशि से चंद्रमा चौथा छठा आठवां बारहवां नहीं होना चाहिए।

शुभ नक्षत्र:- रोहिणी, मघा,उत्तराफाल्गुनी, पूर्वाफाल्गुनी, अनुराधा, ज्येष्ठा, मूल,श्रवण,रेवती।

  तिथि विचार :- चतुर्थी, नवमी, चतुर्दशी, श्राद्ध होलाष्ठ निषेध हैं।

धरती शयनावस्था विचार।

वार विचार :- सोमवार बुधवार बृहस्पतिवार शुक्रवार रविवार।

मांस विचार।

लग्न विचार स्थिर लग्न शुभ ।

गुरू,शुक्र अस्त नही होने चाहिए।

मल मास का त्याग करें।

सूर्य नक्षत्र गिनने पर  

 1 से 4 नक्षत्र  तक शुभ फलदाई होता है ।

  5  से 6नक्षत्र  तक  नुकसान दाई होता है ।

7 से 8नक्षत्र  तक  लाभदाई होता है।

 9 वांं नक्षत्र हानि प्रदान करता है ।

10 से 14 नक्षत्र तक दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। 15 से 19 नक्षत्रों तक शुभ फलदाई होते हैं ।

20 से  21 वां नक्षत्र परेशानी पैदा करता है ।

22 से 27 नक्षत्र  तक व्यवसाय मे बढ़ोत्तरी देता है।